मुजफ्फरपुर : कालाजार पर पूर्ववत स्थिति बनाए रखने के लिए होगा आईआरएस छिड़काव 

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

मुजफ्फरपुर। मुजफ्फरपुर जिले को कालाजार मुक्त रखने के सतत प्रयास के लिए 20 मार्च से वर्ष का पहला आईआरएस छिड़काव किया जाएगा। 60 दिन चलने वाले इस अभियान में कुल 208 राजस्व गांवों में सिंथेटिक पैराथायराइड का छिड़काव किया जाएगा । यह छिड़काव वहां के घरों की दीवारों पर किया जाएगा।

इसमें सबसे ज्यादा पारू प्रखंड के 38 राजस्व ग्राम शामिल हैं। पूरे जिले में इसके लिए कुल 51 टीम कार्य करेगी। छिड़काव के पहले आशा कार्यकर्ता द्वारा  घर वालों को सूचित कर दिया जाएगा। जिले में इस वर्ष 4 कालाजार एवं एक पीकेडीएल के केस प्रतिवेदित हुए हैं।

एसएफडब्ल्यू को मिला प्रशिक्षण

जिला स्वास्थ्य समिति के सभागार में बुधवार को सिविल सर्जन डॉ यूसी शर्मा और जिला भीबीडीसी पदाधिकारी डॉ सतीश कुमार की अध्यक्षता में 20 मार्च से होने वाले छिड़काव को सफल बनाने के लिए एसएफडब्ल्यू को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान सिविल सर्जन डॉ यूसी शर्मा ने बताया कि छिड़काव के दौरान सभी छिड़काव कर्मी लोगों के बीच एईएस के बारे में जागरूक करेंगे।

जिला भिबीडीसी पदाधिकारी डॉ सतीश ने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान छिड़काव का गुणवत्तापूर्ण एवं सही तकनीक से छिड़काव के तरीकों, छिड़काव के दौरान संभावित मरीजों की  पहचान, छिड़काव से पहले राजस्व ग्राम के पंचायत प्रतिनिधि को सूचित करने जैसे महत्वपूर्ण बात बताए गए हैं। कुल एक लाख 73 हजार एक सौ 10 घरों  के चार लाख 52 हजार दो सौ 87 रुम को इस  चक्र के दौरान छिड़काव से आच्छादित करना है।

- Advertisement -

प्रशिक्षण में सीएस डॉ यूसी शर्मा, डीपीएम रेहान अशरफ, केयर डीपीओ सोमनाथ ओझा, भीडीसीओ राजीव कुमार, रौशन कुमार, बीभीडीसी प्रीतिकेश प्रमार्थी एवं सभी प्रखंड से भीबीडीएस की उपस्थिति रही।

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

संबंधित खबरें