मुजफ्फरपुर – रिसोर्स प्वाइंट के रूप में डेवलप हो फाइलेरिया क्लीनिक : डीडीसी

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

मुजफ्फरपुर। फाइलेरिया उन्मूलन में जिला काफी अच्छा प्रयास कर रहा है। फाइलेरिया क्लीनिक (एमएमडीपी क्लीनिक) की शुरूआत करते हुए मुझे बड़ी प्रसन्नता हो रही है। इसे एक क्लीनिक से कहीं ज्यादा फाइलेरिया रोगियों के लिए रिर्साेस सेंटर के रूप में डेवलप हो, तब फाइलेरिया उन्मूलन की नींव रखी जा सकती है। ये बातें सदर अस्पताल में फाइलेरिया क्लीनिक का उद्घाटन करते हुए डीडीसी आशुतोष द्विवेदी ने सोमवार को कही। उन्होंने कहा कि एक समय था जब पूरे जिले में मात्र 534 फाइलेरिया मरीज चिन्हित थे। जीविका के सहयोग से एक सर्च अभियान चलाया गया, जिसमें 17 हजार के करीब फाइलेरिया रोगी मिले। हमने नीति आयोग को भी यह बात बताई थी कि हमारा अगला कदम फाइलेरिया क्लीनिक होगा।

इसके खुलने से जो फाइलेरिया से ग्रस्त लोग हैं उनकी बीमारी का प्रबंधन आसान हो जाएगा। इसके बाद भी जनवरी में राष्ट्रीय स्तर पर फाइलेरिया को लेकर जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। डीडीसी ने फाइलेरिया मरीज के बीच एमएमडीपी किट का भी वितरण किया। पार्वती स्पोर्ट ग्रुप की नेटवर्क मेम्बर जैलस देवी के द्वारा एमएमडीपी किट के उपयोग को डेमो (प्रदर्शित) कर सिविल सर्जन के सामने बताया गया। इस प्रदर्शन की सराहना सिविल सर्जन के द्वारा की गई। जिला भीबीडीसी पदाधिकारी डॉ सतीश कुमार ने कहा कि फाइलेरिया क्लीनिक में हाथी पांव का उपचार पैरों की साफ सफाई एवं देखभाल, व्यायाम, परामर्श आदि सुविधा है।  इसके माध्यम से फाइलेरिया रोगी दोषपूर्ण तरीके से अपने रोग का खुद भी उपचार कर पाएगें। इसलिए इसे स्वउपचार भी कहा जाता है।

प्रत्येक मंगलवार को फाइलेरिया क्लीनिक का होगा संचालन

मौके पर सिविल सर्जन डॉ यूसी मिश्र ने कहा कि जिले के सभी प्राथमिक तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में मंगलवार को फाइलेरिया क्लीनिक काम करेगा। इसमें चिकित्सक फाइलेरिया रोगी को हाइजिन तथा रोग को बढ़ने से रोकने के लिए एक किट प्रदान किया जाएगा। जिसके इस्तेमाल से वह अपने रोग को बढ़ने तथा एक्यूट अटैक से रोक सकेगा। वहीं एसीएमओ डॉ सुभाष प्रसाद ने बताया कि संभवतः 10 फरवरी से जिले में सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम की शुरूआत होगी। इसके अलावा हाइड्रोसील के ऑपरेशन के लिए भी जागरुकता होगी। 

2 प्रखंडो में फाइलेरिया पेशेंट सपोर्ट ग्रुप के नेटवर्क मेंबर्स ने किया उद्घाटन

सदर में डीडीसी के साथ प्रखंडों के एमओआईसी ने फाइलेरिया क्लीनिक का उद्घाटन किया। वहीं मुशहरी व मीनापुर में फाइलेरिया पेशेंट सपोर्ट ग्रुप के नेटवर्क मेंबर्स द्वारा उद्घाटन किया गया। फाइलेरिया ग्रसित पार्वती फाइलेरिया पेशेंट सपोर्ट ग्रुप की नेटवर्क मेंबर ने बताया कि यह क्लीनिक मेरे जैसे मरीजों के रोग के रोकथाम और फाइलेरिया पर जागरुकता में मददगार साबित होगा। मौके पर डीडीसी आशुतोष द्विवेदी, सीएस डॉ यूसी मिश्रा, एसीएमओ डॉ सुभाष प्रसाद, डीएस डॉ सीके दास, भीडीसीओ पुरुषोत्तम कुमार, भीबीडीसी प्रीतिकेश कुमार, डब्ल्यूएचओ की डॉ माधुरी, केयर डीटीएल सौरभ तिवारी, सोमनाथ ओझा सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मी मौजूद थे।

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

spot_img

संबंधित खबरें