बोधगया में डुमराव शहर के शिक्षक डॉ मनीष कुमार शशि सरस्वती पुरस्कार से सम्मानित

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

बाल रक्षक प्रतिष्ठान सोसाइटी महाराष्ट्र के द्वारा बोधगया में शिक्षक सम्मान का आयोजन किया गया. आयोजन समिति के द्वारा देश के प्रमुख शिक्षाविदों को सम्मान समारोह 2022 में शामिल किया. महाराष्ट्र आयोजन समिति के प्रमुख नरेश वाग्य और मनोज चीनचोर के साथ-साथ राष्ट्रीय शिक्षक सम्मान पुरस्कार विजेता हरिदास प्रसाद भी इस आयोजन को सफल बनाने में शामिल रहे. बाल रक्षक प्रतिष्ठान महाराष्ट्र के द्वारा कर्मवीर पुरस्कार, राष्ट्रीय सरस्वती सम्मान देशभर के विद्वान शिक्षकों को सम्मानित किया गया.
अनुमंडल डुमराव शहर के रहने वाले प्लस 2 शिक्षक डॉ मनीष कुमार शशि ने राष्ट्रीय सरस्वती सम्मान 2022 प्राप्त किया. राज्य शिक्षा शोध एवं प्रशिक्षण संस्थान पटना बिहार के पदाधिकारी और वरीय व्याख्याता डॉ आभा रानी ने मनीष को शुभकामनाएं दी.

मुख्य अतिथि प्रोफेसर कौशल किशोर, विशेष अतिथि आभा रानी, IIT आईआईटी पटना निदेशक प्रोफेसर टी एन सिंह , प्रोफेसर डॉक्टर रमेश कुमार सिंह, रेखा अग्रवाल, राजेंद्र प्रसाद गुप्ता, जागृति कला इत्यादि शिक्षाविद मंचासीन रहे. राष्ट्रीय नवाचार संबंधित शैक्षणिक गतिविधियों को आधार बनाकर देश की प्रतिष्ठित शिक्षकों को यहां से सम्मानित किया गया. विगत 5 वर्ष के शैक्षणिक कार्य को इस चयन का आधार बनाया गया. जिसमें शिक्षक के यूट्यूब, वीडियो गतिविधि, वर्ग संचालन गतिविधि, नवाचारी गतिविधि, फेसबुक, व्हाट्सएप इत्यादि नवाचारी गतिविधियों को इस संदर्भ में शामिल किया गया.

गया सम्मेलन में सम्मान प्राप्त करते जिले के शिक्षकों ने शुभकामना संदेश प्रेषित किए . जिसमें प्रोफेसर विजय यादव, पदाधिकारी मृत्युंजय कुमार,आशीष कुमार गुप्ता, दानी राय, डॉक्टर बालेश्वर सिंह, डॉक्टर राजेश सिंह, शिक्षक नेता बृजेश राय, डॉ सुरेंद्र सिंह, शिल्पम, ऋतुराज, डॉक्टर पम्मी राय, अनीता यादव, विकास कुमार, अंजनी चौरसिया, रमाशंकर चौधरी, उपेंद्र राय, ललित मोहन शर्मा, प्रमोद चौबे, हींग मनी, पुष्पा कुमारी इत्यादि प्रमुख है.

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

spot_img

संबंधित खबरें