डायट द्वारा शिक्षकों के लिए पाठ्यचर्या और समावेशी कक्षा कोर्स हुआ एप्प लांच

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

डुमरांव. जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान में राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के अंतर्गत डायट के माध्यम से जिला का शैक्षणिक सशक्तिकरण कार्यक्रम ‘माइक्रो-लर्निंग एण्ड एम्प्रूवमेंट प्रोग्राम के अंतर्गत कक्षा 1 से 12 के शिक्षकों के लिए पाठ्यचर्या और समावेशी कक्षा कोर्स का लांचिंग जिला शिक्षा पदाधिकारी, बक्सर अनिल कुमार द्विवेदी और प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, डुमरांव बक्सर दीक्षा कोर्स समन्वयक सह वरीय व्याख्याता, नवनीत कुमार सिंह, दीक्षा कोर्स रिव्यूवर अजय कुमार तिवारी, दीक्षा कोर्स क्रियेटर दिनेश सिंह, गुणवत्ता संभाग प्रभारी डॅा प्रभात और डायट के समस्त व्याख्याता, दीक्षा तकनीकी टीम के सदस्यों द्वारा डायट और समग्र शिक्षा कार्यालय बक्सर में हाईब्रिड मोड में किया गया.

लॉचिंग सह उन्मुखीकरण में मुख्य अतिथि जिला शिक्षा पदाधिकारी ने डायट द्वारा शुरू किये गयें इस कोर्स की सराहना की, साथ ही अपने उद्बोधन में उन्होने समावेशी कक्षा के विभिन्न पहलुओं की चर्चा करते हुए कहां कि यह कोर्स जिले के सभी शिक्षकों के लिए नियमित कक्षाओं में विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को शामिल करने के लिए अपने विद्यमान कौशल को सुदृढ़ करने में सहायक सिद्ध होगा. विवेक कुमार मौर्य, प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, डुमरांव, बक्सर ने सभी उपस्थित अतिथियों का स्वागत करते हुए कहां कि डायट, डुमरांव द्वारा शुरू किया गया यह कोर्स बक्सर जिले के कक्षा 1 से 12 तक के सभी शिक्षकों के लिए है समावेशी शिक्षा तथा समावेशी कक्षा निर्माण के रणनीति बनाने की एक समृद्ध समझ विकसित करने में सहायक है.

अतः सभी शिक्षक इस कोर्स को तय सीमा में जरूर करें. नवनीत कुमार सिंह, कोर्स समन्वयक सह मेंटर ने कहां कि यह कोर्स बक्सर दीक्षा तकनीकी टीम द्वारा निर्मित किया गया है, केंद्र और राज्य द्वारा दीक्षा पोर्टल पर विभिन्न कोर्स लॉन्च किया जाता रहा हैं. अब जिला स्तर पर भी दीक्षा पोर्टल पर कोर्स का निर्माण किया जा रहा हैं. इसी क्रम में संस्थान द्वारा इस कोर्स को लॉन्च किया गया हैं. डॉ. प्रभात, संभाग प्रभारी बीईपी, बक्सर ने डायट, डुमरांव द्वारा लॉन्च किये जा रहंे, इस कोर्स की सराहना करते हुए कहां यह कोर्स सभी शिक्षकों के लिए फायदेमंद सिद्ध होगा और समग्र शिक्षा कार्यालय, बक्सर और डायट, डुमरांव समन्वय स्थापित करते हुए जिले में इस कोर्स को आगे बढाया जाएगा.

मनोरंजन कुमार, व्याख्याता (समावेशी शिक्षा)  ने कहां कि समावेशी शिक्षा का यह कोर्स पाठ्यक्रम के शिक्षण के लिए उपयुक्त रणनीतियों का निर्माण एवं उसे लागु करने में सहायक सिद्ध होगा. कोर्स क्रियेटर डॉ दिनेश सिंह ने अपने संबोधन में कहां कि दीक्षा एप्प पर शिक्षक भी अपने कोर्स को बना सकते हैं. कोर्स रिव्यूवर अजय कुमार तिवारी ने कहां कि दीक्षा एप्प पर लॉन्च किया गया. यह कोर्स कक्षा 1 से 12 तक के शिक्षको के लिए है, यह कोर्स शिक्षकों के शिक्षण क्षमता को सवंर्धित सहायक सिद्ध होगा. जिले के स्कूली शिक्षा को गुणवत्तापूर्ण बनाने के लिए गुणवान शिक्षकों की ही भूमिका अहम होती हैं और यह कोर्स उनकी गुणवत्ता में वृद्धि करेगा. व्याख्याता (योजना एवं शोध) डॉ विनोद कुमार सिंह ने कहां कि 15 मार्च से 30 अप्रैल 2023 तक सभी शिक्षक इस कोर्स को पूर्ण कर सकते है और सभी शिक्षक इसे अवश्य पूर्ण करें.

- Advertisement -

भूपेंद्र सिंह यादव, व्याख्याता (हिंदी) ने धन्यवाद ज्ञापन करते हुए इस कार्यक्रम जुड़े हुए सभी अतिथियों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त किया एवं तकनीकी सहायता के लिए राज्य तकनीकी टीम को भी धन्यवाद ज्ञापित किया. कार्यक्रम संचालन नवनीत कुमार सिंह ने किया. इस अवसर पर ऑनलाईन मोड में समग्र शिक्षा कार्यालय बक्सर से सभी संभाग प्रभारी बक्सर दीक्षा तकनीकी टीम और बक्सर जिले के सभी शिक्षक जुड़े रहे, और व्याख्याता विवेक कुमार रजक, लीलावती कुमारी, डॉ ब्रजेश कुमार, डॉ संगीता कुमारी, मनीष कुमार, डॉ सत्या मिनाक्षी, सहदेव प्रसाद, आलोक सिह, प्रधान लिपिक शिव शंकर प्रसाद, कनीय लिपिक अखिलेश प्रसाद सिंह, डा. मनीष कुमार शशि, चंदन कुमार मिश्रा, रविप्रकाश मुकुल, देवेंद्र पासवान, इंडक्शन ट्रेनिंग प्राप्त कर रहें, सभी शिक्षक ऑफलाईन मोड में उपस्थित रहे हैं. 

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

संबंधित खबरें