केंद्रीय राज्य मंत्री सह सांसद, एमएलसी से मिलें शिक्षक एकता मंडल का प्रतिनिधि मंडल, मांगों को विस्तार पूर्वक सभी बिंदुओं पर हुई चर्चा 

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

बक्सर। सर्किट हाउस में केंद्रीय राज्य मंत्री सह सांसद अश्विनी कुमार चौबे एवं एमएलसी जीवन कुमार के साथ शिक्षक एकता मंडल बक्सर का प्रतिनिधिमंडल अपनी चीर परिचित मांगो के समर्थन में मिला। सांसद एवं एमएलसी जीवन कुमार द्वारा सभी मांगों को विस्तार पूर्वक सभी बिंदुओं पर चर्चा किया एवं नियोजित शिक्षकों के सभी समस्याओं का समाधान को लेकर आश्वस्त किया।

परीक्षा और स्थानांतरण रूपी समस्या पर गहनता पूर्वक चर्चा की गई। जिसमें एमएलसी जीवन कुमार द्वारा कहां गया कि आप सभी विश्वास रखें कि किसी भी शर्त पर स्थानांतरण नहीं होगा, एमएलसी द्वारा विशिष्ट शिक्षक नियमावली 2023 में संशोधन हेतु आश्वस्त किया गया। उन्होंने कहां कि हमारी सरकार शिक्षकों की समस्याओं को लेकर गंभीर है एवं विगत जुलाई माह में शिक्षकों के समर्थन में विशाल आंदोलन किया।

जिसमें हमारे पार्टी के वरीय साथी ने शहादत देने का कार्य किया। उनकी शहादत को हमारी पार्टी बर्बाद नही होने देगी। आपकी जायज मांगों को सरकार को मानना ही होगा। वार्ता के क्रम में सांसद द्वारा शिक्षक प्रतिनिधिमंडल से पूछा गया कि क्या आप लोगों को आयुष्मान भारत की सुविधा मिलती है, इस पर एमएलसी ने कहा कि किसी भी प्रकार की कोई स्वास्थ्य संबंधी कोई सुविधा नहीं मिलती है।

इस पर सांसद बहुत गंभीर हो गए और उन्होंने जीवन कुमार से कहा कि शिक्षक एवं उनके परिवार में स्वास्थ्य संबंधी किसी गंभीर बीमारी के हो जाने पर निम्न कोटि के वेतन से इलाज करा पाना मुश्किल है। उन्होंने आयुष्मान भारत के तर्ज पर उनके परिवारों को जोड़ने हेतु मांग सदन में उठाने के लिए एमएलसी जीवन कुमार को प्रेरित किया।

- Advertisement -

उन्होंने कहां कि जीवन में स्वास्थ्य समस्या बहुत गंभीर मामला है। इस पर भारत सरकार गंभीरता पूर्वक ध्यान दे रही है, इससे शिक्षक एवं उनके परिवार को जोड़ना अति आवश्यक है। प्रतिनिधिमंडल में शिवजी दुबे, उपेंद्र पाठक, नवनीत कुमार, अनीता यादव, राहुल कुमार सिंह आदि अन्य शिक्षक प्रतिनिधि शामिल हुए।

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img

1 COMMENT

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Mizgan hashmi
Mizgan hashmi
1 month ago

Kitni charchayen hongi, kuch solution v hoga kya???? Kya kr rha hai ekta manch

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

संबंधित खबरें