आज जिले में “कनेक्ट विथ कम्युनिटी, कंट्रोल डेंगू” थीम पर मनाया जायेगा डेंगू दिवस

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य ये जिले के सभी प्रखंडों में आयोजित किए जाएंगे विभिन्न कार्यक्रम

अपर निदेशक-सह-राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी, वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम ने जारी किया पत्र

आरा, 15 मई | प्रत्येक वर्ष 16 मई को डेंगू की रोकथाम के प्रति जनसमुदाय को जागरूक करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय डेंगू दिवस मनाया जाता है। अब जनसहभागिता बढ़ाते हुए लोगों को इसके संबंध में जागरूक करने की तैयारी की जा रही है। कुछ इसी उद्देश्य के साथ जिले में इस बार डेंगू से निपटने के लिए शहरी के साथ साथ ग्रामीण स्तर पर जागरूक करने की कोशिश की जाएगी।

इसके लिए जिले में 16 मई को राष्ट्रीय डेंगू दिवस मनाने की तैयारी पूरी कर ली गई है। जिसमें शहरी के साथ-साथ ग्रामीण इलाकों में विशेष रणनीति तैयार की गई है। जिसके तहत ग्रामीण स्तर पर आंगनबाड़ी केंद्रों और किसान गोष्ठियों में लाभुकों और किसानों को डेंगू के लक्षणों की पहचान, जांच, इलाज और बचाव की जानकारी दी जाएगी।

- Advertisement -

साथ ही, इस बाबत अपर निदेशक-सह-राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी, वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम, डॉ. अशोक कुमार ने राज्य के सभी सिविल सर्जन, सभी अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी एवं सभी वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी को पत्र जारी कर आवश्यक निर्देश दिया है।

मानसून में बढ़ जाती है डेंगू के प्रसार की संभावना

जारी पत्र में बताया गया है कि इस अवसर पर विभिन्न स्थानीय अधिकारीयों, विभागों तथा गैर सरकारी संगठनों एवं विभिन्न सहयोगी संस्थाओं के साथ समंवय स्थापित कर डेंगू की रोकथाम के प्रति जनसमुदाय को जागरूक करने के लिए विभिन्न आईईसी/बीसीसी गतिविधियों का आयोजन किया जाता है।

जारी पत्र में बताया गया है कि पिछले कुछ वर्षों से राज्य में डेंगू का प्रकोप काफी बढ़ा है। मानसून के आरंभ होते ही डेंगू का प्रसार बढ़ जाता है। डेंगू दिवस से ही इसके रोकथाम की गतिविधियों को तेज कर दिया जाता है जो प्रसार सीजन के ख़त्म होने तक जारी रहता है।

जिला स्तर पर कैंपेन मोड में आयोजित की जायेंगी गतिविधियां

जिला अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी सह जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी डॉ. केएन सिन्हा ने बताया कि विभाग के निर्देश पर जिला स्तर पर डेंगू के रोकथाम के प्रति जन-जागरूकता के लिए विभिन्न प्रचार-प्रसार गतिविधियों की योजना बनाकर कैंपेन मोड में संचालित करना सुनिश्चित किया जाएगा।

इसमें स्थानीय निकाय के अधिकारीयों यथा पंचायत, नगर पालिका, नगर निगम को भी सम्मिलित किया जाएगा। साथ ही, डेंगू के मच्छर एवं लार्वा के नियंत्रण के लिए संबंधित विभागों के साथ समंवय स्थापित कर डेंगू के प्रसार को प्रभावी तरह से नियंत्रित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि स्कूली बच्चों को डेंगू के प्रति जागरूक करने के लिए भी विभिन्न गतिविधियों का संचालन किया जाएगा। ताकि, ज्यादा से ज्यादा लोगों को डेंगू के प्रति जागरूक किया जा सके।

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

संबंधित खबरें