मुजफ्फरपुर : ग्राम पंचायत के मुखियागण का स्वास्थ्य एवं सामाजिक मुद्दों के ऊपर एक दिवसीय अभिमुखीकरण संपन्न

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

मुजफ्फरपुर। पंचायती राज विभाग, स्वास्थ्य विभाग एवं सेंटर फॉर कैटालाइजिंग चेंज संस्था (C3) के संयुक्त तत्वाधान में जिला ग्रामीण विकास अभिकरण, मुजफ्फरपुर के सभागार में मुजफ्फरपुर जिला के सभी प्रखंडों के मुखियागण का एक दिवसीय अभिमुखीकरण संपन्न हुआ। जिला से अब तक कुल 258 मुखियागनों को किया जा चुका है प्रशिक्षित।

कार्यक्रम के दौरान उपस्थित मुख्य प्रशिक्षक के रूप में सेंटर फॉर कैटलाइजिंग चेंज के पटना से आए कार्यक्रम पदाधिकारी आकाश कुमार सिंह ने बताया कि परिवार नियोजन को सुदृढ़ करने के साथ साथ मुखियागणों को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाने, नियमित टीकाकरण में सहयोग, प्रसव पूर्व जांच को सुनिश्चित करने में सहयोग, कृमि नाशक कार्यक्रम में सहयोग, संचारी एवम् गैर संचारी रोगों की रोकथाम, एनीमिया मुक्त भारत

कार्यक्रम में सहयोग, संस्थागत प्रसव को बढ़ाने, एक घंटे के अंदर स्तनपान कि दर बढ़ाने इत्यादि को सशक्त बनाने की अपील की। कार्यक्रम को सहयोग देने मे असैनिक शल्य चिकित्सा पदाधिकारी, के साथ साथ प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी मरबन डॉ० रत्ना, साहेबगंज के मो० अलाउद्दिन अंसारी, सरैया के श्री कृष्ण नंदन सिंह, कटरा प्रखंड के श्री प्रेम प्रकाश ने 

उन्होंने मुखियागणों से अपील किया की वे लोक निर्माण के साथ साथ स्वास्थ्य एवं सामाजिक मुद्दों पर भी अभिरुचि बढ़ाएं ताकि इससे जुड़े मुद्दों में बेहतरी लाते हुए सतत विकास लक्ष्यों को पूरा किया जा सके। मुखिया से आंगनबाड़ी केंद्रों के द्वारा प्रदत्त सेवाओं की गुणवत्ता सुधारने में उनका सहयोग मांगा साथ ही उनसे आशा किया कि वे अपने पंचायतों में कुपोषित बच्चों, खून की कमी से पीड़ित माताओं कि स्थिति सुधारने हेतु विशिष्ट पहल करना सुनिश्चित करेंगे।

- Advertisement -

कार्यक्रम के दौरान बाल विवाह, भ्रूण हत्या, बालिका शिक्षा,  दहेज प्रथा, शराब बंदी, लैंगिक असामनता जैसे मुद्दों पर भी माननीय मुखिया गणों को संवेदनशील बना कर पंचायत स्तर पर कार्यबध तरीके से संबोधित करने के लिए प्रेरित किया गया। अभिमुखीकरण कार्यक्रम को रोचक बनाने के लिए आयोजकों द्वारा कई खेल एवम् गतिविधियों का भी आयोजन किया गया जिसमें सबसे महत्वपूर्ण लिंग सत्ता चाल खेल था जिसके माध्यम से मुखियागन को स्वास्थ्य सेवा तक पहुंच बनाने में आने वाली बाधाओं के बारे में जागरूक किया गया।

कार्यक्रम की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए एवं प्रभाव को जानने के लिए प्रशिक्षण पूर्व/पश्चात एक मूल्यांकन भी किया गया जिसके परिणाम में यह पाया गया कि मुखिया गणों की जानकारियों में उन्मुखीकरण पश्चात अभूतपूर्व वृद्धि हुई है। सी थ्री के कार्यक्रम पदाधिकारी आकाश कुमार सिंह ने जानकारी दिया की इसी प्रकार का एक दिवसीय अभिमुखीकरण जिला के सभी मुखिया के साथ साथ 38 जिलों के सभी मुखियागणों के साथ जिला स्तर पर आयोजित किया जा रहा है। 

कार्यक्रम को सफल बनाने में डॉक्टर यू सी शर्मा (सी०एस०) , एम. ओ. डॉक्टर कुंदन कुमार, BPRO कृष्ण नंदन सिंह, प्रेम प्रकाश, डॉ० रत्ना, में अलाउद्दिन अंसारी का उल्लेखनीय योगदान रहा जिन्होंने अपनी उपस्थिति से मुखियागणों को प्रेरित करने का कार्य किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में सेंटर फॉर कैटलाईजिंग चेंज के अभय कुमार जिला समन्वयक, एवं प्रखंड समन्वयक विनय भूषण, रानी कुमारी, संजु शाही, पूनम कुमारी, रागिनी, और डौली कुमारी का बहुमूल्य प्रबंधन रहा।

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

संबंधित खबरें