सासाराम : कोरोना संक्रमण से निपटने की तैयारी के लिए सदर अस्पताल में हुई मॉक ड्रिल

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

-ऑक्सीजन प्लांट के साथ साथ ऑक्सीजन सप्लाई का लिया गया जायजा

सासाराम | चीन में कोरोना विस्फोट जैसी स्थिति भारत में न हो इसके लिए केंद्र सरकार ने पहले से ही स्थिति का आकलन करना शुरू कर दिया है। कोरोना संक्रमण की स्थिति में इससे निपटने के लिए तैयारियों का जायजा लेने के लिए के केंद्र सरकार ने मंगलवार को देशव्यापी मॉक ड्रिल का आयोजन कर स्थिति का आकलन किया। इसी के तहत रोहतास जिला मुख्यालय सासाराम स्थित सदर अस्पताल में भी सरकार के दिशा निर्देश पर इमरजेंसी वार्डों के साथ साथ ऑक्सीजन प्लांट एवं ऑक्सीजन सप्लाई का जायजा लिया गया। इस दौरान इमरजेंसी वार्डों के रूप में बनाये गए कोविड केअर सेंटर में लगाए गए बेड पर ऑक्सीजन फ्लो की जांच की गई। साथ ही कोरोना महामारी से निपटने के लिए मौजूद दवाइयों एवं अन्य सामग्रियों की भी जानकारी ली गई। 

72 बेड का कोविड केअर वार्ड तैयार

मॉक ड्रिल कर सुविधाओं का जायजा ले रहे अस्पताल उपाधीक्षक डॉ. श्री भगवान सिंह ने कहा कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान सदर अस्पताल में लगभग 72 बेड का कोविड केअर इमरजेंसी वार्ड बनाया गया था। उसी समय से सभी व्यवस्थाओं को बरकरार रखा गया है। क्योंकि संक्रमण का खतरा टला नहीं था, इसलिए सभी इंतज़ामों को बरकरार रखा गया था। संक्रमण की संभावना को देखते हुए उसी व्यवस्था को पुनः सुचारू किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जो भी थोड़ी कमियां हैं उसे एक दो दिन में दूर कर दिया जाएगा। डॉ. भगवान ने बताया कि सदर अस्पताल के साथ साथ सभी स्वास्थ्यकर्मी पुनः कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए तैयार हैं।

दो गज दूरी, मास्क है जरूरी

कोरोना संक्रमण की  नई लहर को लेकर डीआईओ डॉ आरकेपी साहू ने कहा कि संक्रमण को लेकर पैनिक होने की जरूरत नहीं  है। बस, जरूरत है एक बार फिर मास्क और दो गज दूरी के साथ सावधानी की। डॉ साहू ने बताया कोरोना संक्रमण को लेकर टीकाकरण भी जारी है। उन्होंने बताया कि फिलहाल को -वैक्सीन की  बूस्टर डोज दी  जा रही  है। डॉ. साहू ने बताया कि जिले में 24 लाख 88 हज़ार के आसपास टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। इसके विरुद्ध में 20 लाख 47 हजार से अधिक लोगों को प्रथम डोज का टीकाकरण किया जा चुका है। वहीं 18 लाख 45 हज़ार लोगों को दूसरे डोज एवं 4 लाख 26 हज़ार से अधिक लोगों को बूस्टर डोज  का टीकाकरण किया जा चुका है। 

- Advertisement -

सावधानी में ही बचाव : सिविल सर्जन

देश मे एक बार फिर संक्रमण के खतरों को देखते हुए रोहतास सिविल सर्जन डॉ के एन तिवारी ने कहा कि संक्रमण से बचाव को लेकर सावधानी बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि दूसरी और तीसरी लहर के दौरान जिस तरह से लोगों ने सावधानी बरत कर संक्रमण को मात दिया, एक बार फिर आवश्यकता है उसी सावधानी को बरतने की। डॉ. तिवारी ने कहा कि संक्रमण से लोगों की सुरक्षा हमलोगों का पहला कर्तव्य है और लोगों की सुरक्षा के लिए जिला स्वास्थ्य समिति पूरी तत्परता के साथ तैयार है।

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

spot_img

संबंधित खबरें