मोतिहारी : जिले के स्वास्थ्य केंद्रों में निःशुल्क कैंसर रोग परामर्श शिविर का हुआ आयोजन

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

मोतिहारी। जिले के स्वास्थ्य केंद्रों पर शनिवार को निःशुल्क कैंसर रोग चिकित्सा एवं परामर्श शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का आयोजन जिले के सदर अस्पताल के एनसीडी सेल समेत कई हेल्थ एवं वेलनेस सेंटरों पर किया गया। अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ रंजीत राय ने बताया कि जिले में 04 से 10 फरवरी तक संभावित कैंसर के मरीजों की जांच की जाएगी। इस दौरान लोगों को तम्बाकू का सेवन न करने की सलाह दी गई।

लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से मनाया जाता है वर्ल्ड कैंसर डे

सीएस डॉ अंजनी कुमार ने बताया कि विश्व में हर साल 4 फरवरी को वर्ल्ड कैंसर डे मनाया जाता है। इस दिन का मुख्य उद्देश्य है कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी के बारे में लोगों को जागरूक करना और इस बीमारी के संकेतों को पहचनाने के लिए जानकारी देनी है।

जांच शिविर में उपस्थित रहे लोग

जिले के कई स्वास्थ्य केंद्रों पर जांच शिविर में महिलाओं व पुरुषों की भागीदारी देखी गई। इस दौरान कैंसर की संभावित लक्षणों की जांच करने के साथ ही चिकित्सकों द्वारा परामर्श भी दिए गए। जिला गैर संचारी रोग चिकित्सा पदाधिकारी डॉ पी के सिन्हा ने बताया कि कैंसर अब लाइलाज नहीं है। समय पर इसकी पहचान होने से इसका  इलाज संभव है। सरकार द्वारा सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर संचालित गैर संचारी रोग (एनसीडी) क्लीनिक में लोग अपने कैंसर की जांच करा सकते हैं । रिपोर्ट पॉजिटिव मिलने पर उसे बेहतर चिकित्सा के लिए उत्कृष्ट मेडिकल अस्पताल भेजा जाता है। जहां लोग निःशुल्क अपना कैंसर का इलाज करवा सकते हैं।

कई लोगों ने तंबाकू छोड़ने की भी प्रतिज्ञा ली

विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर चिकित्सकों के द्वारा समझाए जाने पर कई लोगों ने तंबाकू छोड़ने की भी प्रतिज्ञा ली। डॉ पी के सिन्हा ने बताया कि शरीर का कोई भी भाग कैंसर का शिकार हो सकता है। सामान्यतः लोग मुंह का कैंसर, सर्वाइकल कैंसर या महिला स्तन कैंसर की शिकार हो जाती हैं। अगर किसी व्यक्ति को शरीर में ऐसे लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो उन्हें तुरंत नजदीकी अस्पताल में जांच करवानी चाहिए। समय पर कैंसर की पहचान होने से इसका इलाज आसानी से सम्भव है। 

- Advertisement -

कैंसर जैसे रोग से बचाव को उचित खान-पान जरूरी

सिविल सर्जन डॉ अंजनी कुमार ने बताया कि आजकल बाजार में पाए जा रहे अधिसंख्य खाद्य पदार्थ दूषित व हानिकारक होते हैं। इनके अधिक इस्तेमाल से कैंसर का खतरा बना रहता है। वहीं धूम्रपान व तम्बाकू भी मुंह के  कैंसर का कारण है। कैंसर से बचाव के लिए लोगों को संतुलित खान-पान का सेवन करना चाहिए ।इसके अलावा नियमित व्यायाम और शरीर का सन्तुलित वजन भी कैंसर होने से बचाए रखने में सहायक होता है। मौके पर डॉ राहुल राज, डॉ सुनील कुमार, चांदसी कुमार,उत्कर्ष उज्ज्वल, स्वीटी सोरेन, मधु कुमारी व अन्य स्वास्थ्य कर्मी उपस्थित थे।

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

spot_img

संबंधित खबरें