सीतामढ़ी : सरकारी अस्पताल व मेडिकल कॉलेजों में हीट वेव के लिए विशेष इलाज की होगी व्यवस्था

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

सीतामढ़ी। गर्मी की मौसम की शुरुआत के साथ ही स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन हीट वेव को लेकर सतर्क एवं मुस्तैद दिख रही है। आम जनता को स्वास्थ्य एवं पेयजल संबंधित गंभीर समस्याओं का सामना न करना पड़े इसके मद्देनजर मुख्य सचिव बिहार सरकार के द्वारा वीसी के माध्यम से सभी महत्वपूर्ण विभागों के साथ एक बैठक की गई।

बैठक में मुख्य सचिव द्वारा सरकार के विभिन्न विभागों के द्वारा आम जनों को भीषण गर्मी एवं लू (हीट वेव्स) से बचाव हेतु जागरूक करने एवं समुचित व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया। बैठक के दौरान सभी पीएचसी, एचडब्ल्यूसी एवं सदर अस्पताल में दवाओं की उपलब्धता को सुनिश्चितता को लेकर निर्देश दिया गया। विशेषकर छोटे बच्चों, स्कूली बच्चों, गर्भवती एवं धात्री महिला एवं काम के लिए घर से बाहर निकलने को बाध्य दिहाड़ी मजदूरों को काफी समस्याएं आती है, साथ ही पेयजल संकट की स्थिति भी उत्पन्न होती है।

इसके लिए  स्वास्थ्य विभाग, नगर विकास एवं आवास विभाग, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग, शिक्षा विभाग के साथ अन्य विभागों को भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। सभी खराब चापाकलों की मरम्मती कर चालू करने के निर्देश के साथ जिला कंट्रोल रूम का नंबर एवं हीट वेव को प्रचार प्रसार किये जाने का आदेश दिया गया। शिक्षा विभाग को भीषण गर्मी से बचाव हेतु सुबह की पाली में विद्यालय का संचालन करने का निर्देश एवं बच्चों में लू (हीट वेव्स) को लेकर जानकारी देने का निर्देश दिया गया। सभी बस स्टैंड पर पेयजल की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया। 

स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी सरकारी अस्पतालों,मेडिकल कॉलेजों में हीट वेव से प्रभावित व्यक्तियों के इलाज का विशेष व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया। पर्याप्त मात्रा में ओआरएस पैकेट, आईबी फ्लूड एवं जीवन रक्षक दवाओं इत्यादि की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया। चलंत चिकित्सा दल एवं वाहन की समुचित व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया।  बच्चों, बुजुर्गों, गर्भवती महिलाओं तथा गंभीर रूप से बीमार व्यक्तियों का विशेष ध्यान रखा जाने का निर्देश दिया गया।

- Advertisement -

सार्वजनिक स्थानों पर प्याऊ की व्यवस्था

नगर विकास एवं आवास विभाग को शहरी क्षेत्रों में सार्वजनिक स्थानों पर प्याऊ की व्यवस्था, खराब चापाकल की मरम्मती, आश्रय स्थलों में पेयजल की व्यवस्था, लू से बचाव से संबंधित सूचनाओं का आम जनों के लिए प्रदर्शित किया जाने का निर्देश के साथ लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग को खराब चापाकलों को युद्ध स्तर पर मरम्मती पेयजल संकट से निपटने हेतु निर्धारित मानक संचालन प्रक्रिया के अनुसार पेयजल संकट ग्रस्त क्षेत्रों में टैंकरों के माध्यम से पेयजल की उपलब्धता किया किए जाने का निर्देश दिया गया। 

आंगनबाड़ी पर ओआरएस घोल

समाज कल्याण विभाग द्वारा सभी आंगनबाड़ी केंद्रों के पेयजल की समुचित व्यवस्था स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से आंगनबाड़ी केंद्रों पर जीवन रक्षक घोल ओआरएस की व्यवस्था नवजात शिशु बच्चों धात्री एवं गर्भवती महिलाओं के लिए स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से चिकित्सा सुविधा की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया। सूचना एवं जनसंपर्क विभाग लगातार हीट वेव से बचाव के उपाय से संबंधित विज्ञापन का प्रचार प्रसार प्रिंट मीडिया में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के माध्यम से एवं सोशल मीडिया यथा फेसबुक व्हाट्सएप एवं ट्विटर के माध्यम से करने का निर्देश दिया गया।

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

संबंधित खबरें