मोतिहारी : हृदय रोग से ग्रसित 16 बच्चे बेहतर इलाज हेतु पटना रवाना

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

मोतिहारी। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत ह्रदय रोग से पीड़ित जिले  के 16 बच्चों को समुचित इलाज के लिए बुधवार को पटना भेजा गया। कलेक्ट्रेट परिसर से डीएम शीर्षत कपिल अशोक ने उनकी गाड़ी को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। डीएम शीर्षत कपिल अशोक व सिविल सर्जन डॉ अंजनी कुमार ने बताया कि मोतिहारी में आरबीएसके चिकित्सकीय टीम द्वारा हृदय रोग के साथ अन्य रोगों से पीड़ित बच्चों की स्क्रीनिंग आंगनबाड़ी केंद्रों, विद्यालयों में की गई।

जिसमें जिले से 16 बच्चों को हृदय रोग से ग्रसित पाया गया। जिन्हें तत्काल पुनः जाँच व इलाज हेतु पटना आइजीआइएमएस भेजा जा रहा है।  वहां चिकित्सकीय जाँच के उपरांत हृदय रोग से गंभीर रूप से पीड़ित बच्चों को बेहतर इलाज हेतु उनके अभिभावक के साथ श्री सत्य साई हॉस्पिटल, अहमदाबाद भेजा जाएगा।

आने-जाने के लिए हवाई टिकट दिया जाएगा

आरबीएसके के सहायक जिला कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ मनीष कुमार ने बताया कि जो बच्चे 6 साल से कम उम्र के हैं, उनके साथ उनके माता- पिता दोनों को अहमदाबाद भेजा जाएगा तथा उन्हें वहां आने-जाने के लिए हवाई टिकट दिया जाएगा। जो बच्चे 6 साल से ज्यादा उम्र के हैं, उनके माता या पिता में से किसी एक को हवाई टिकट अहमदाबाद जाने और आने के लिए दिया जायेगा। अहमदाबाद में उनके रहने व खाने की निः शुल्क व्यवस्था की जाएगी।

हृदय रोग से पीड़ित इन बच्चों को भेजा गया पटना

नीतू कुमारी, उम्र 1.2 वर्ष, पिता राजेश शाह, आदापुर, आर्य राज, उम्र 2 वर्ष, पिता पप्पू कुमार, चकिया, अंशु कुमारी, 15.7 वर्ष, पिता कृष्णा प्रसाद, तुरकौलिया, पुष्पा कुमारी, 14 .4 वर्ष, पिता रमेश प्रसाद, रक्सौल, बिट्टू कुमार, 7.6 वर्ष, पिता दिनेश शर्मा हरसिद्धि, अयान आलम, 2.2 वर्ष, पिता सरतुलहान मियां, मोतिहारी, सपना कुमारी, 6.11 वर्ष, पिता प्रदीप कुमार, मोतिहारी, आयुषी कुमारी, 8. 4 वर्ष, पिता उमेश कुमार चिरैया, अनुराग कुमार, 4 वर्ष, पिता गौतम कुमार, चकिया, रिया कुमारी, 1.5 वर्ष, पिता रितिक कुमार, घोड़ासहन, अंश कुमार, 6 वर्ष, पिता उपेंद्र साह, मेहसी, उज्जवल कुमार, 14 वर्ष, पिता अनिल राय, मेहसी, रितिक कुमार, 11.3 वर्ष, पिता राजेश कुमार पटवा, रामगढ़वा,

- Advertisement -

अलीजा एहसान 1.11 वर्ष, पिता एहसानुल हक, बंजरिया, आशिया परवीन, 6.5 वर्ष, पिता इम्तियाज अरमान, छौड़ादानो, अभिरंजन कुमार, 2. 9 वर्ष, पिता मनोज कुमार, मोतिहारी शामिल हैं। सीएस ने बताया कि पूर्वी चम्पारण पूरे बिहार में सबसे ज्यादा बच्चों को राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत इलाज कराने वाला जिला है। इस मौके पर सिविल सर्जन डॉ अंजनी कुमार, एसीएमओ डॉ रंजीत राय, डॉ मनीष कुमार, डॉ त्रिपुरारी कुमार, डॉ धीरज कुमार, डॉ खालिद अख्तर, डॉ विजय शंकर दुबे, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी गुप्तेश्वर कुमार उपस्थित थे।

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

संबंधित खबरें