सीतामढ़ी: 34 मेगा ईएमटीसीटी हेल्थ कैम्प में 4838 की जांच, एक की आयी एचआईवी रिपोर्ट पॉजिटिव

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

– हेल्थ कैम्प में गर्भवती महिलाओं, उनके पति, यौन संक्रमित रोगी, टीवी एवं कालाजार के रोगियों की हो रही जांच

सीतामढ़ी। बिहार राज्य एड्स नियंत्रण समिति के निर्देश पर जिले भर में मेगा ईएमटीसीटी (एलिमिनेशन ऑफ मदर टू चाइल्ड ट्रांसमिशन) हेल्थ कैंप का आयोजन किया जा रहा है। इसमें गर्भवती महिलाओं के साथ अन्य लोगों की नि:शुल्क जांच की जा रही है। जिला एड्स नियंत्रण पदाधिकारी डॉ मनोज कुमार ने बताया कि मेगा ईएमटीसीटी हेल्थ कैम्प में जांच कराने को लेकर बड़ी संख्या में पुरुष एवं महिलायें शामिल हो रहीं हैं। उन्होंने बताया कि अभी तक जिले भर में 34 कैम्प लगाए जा चुके हैं, जहां 4838 लोगों की एचआईवी जांच की जा चुकी है। जिसमें से एक की एचआईवी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। डॉ. कुमार ने बताया कि कैम्प में जांच के साथ लोगों को एड्स के बारे में जानकारी देकर उन्हें जागरूक भी किया जा रहा है। लोगों को एड्स से बचाव के लिए जरूरी एहतियात बरतने की भी सलाह दी जा रही है। कैंप में गर्भवती महिलाओं, उनके पति, यौन संक्रमित रोगी, यक्ष्मा (टीवी) एवं कालाजार के रोगियों की एचआईवी जांच भी की जा रही है। गर्भवती महिलाओं का एएनसी भी किया जा रहा है। 

प्रचार-प्रसार भी किया जा रहा-

डॉ मनोज कुमार ने बताया कि प्रत्येक कैंप में बीसीएम, एचआईवी काउंसलर, प्रयोगशाला प्रावैधिक एवं एएनएम द्वारा जांच एवं परामर्श का कार्य किया जा रहा है। संबंधित क्षेत्रों में कैंप से पूर्व एवं कैंप के दिन ऑटो रिक्शा द्वारा बैनर एवं माइक के साथ प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। संबंधित क्षेत्र की आशा कार्यकर्ता एवं एएनएम द्वारा घर-घर जाकर प्रचार- प्रसार  भी किया जा रहा है। कैंप में प्रतिदिन लगभग ढाई सौ (250) रोगियों के जांच का लक्ष्य रखा गया है। कैम्प की मॉनिटरिंग जिला स्तर के पदाधिकारी  कर रहे हैं। 

- Advertisement -

बच्चों के स्वास्थ्य पर पड़ता है प्रतिकूल प्रभाव –

डॉ. मनोज कुमार ने कहा कि मदर टू चाइल्ड ट्रांसमिशन के कारण बच्चों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। इसलिए सभी महिलाओं की एचआइवी जांच अति आवश्यक है। ताकि ससमय इलाज हो सके। इससे शिशु मृत्यु दर को भी कम करने में मदद मिलेगी। इसी उद्देश्य के तहत जिले भर में ईएमटीसीटी मेगा हेल्थ कैम्प लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिला को एचआईवी मुक्त रखने के लिए स्वास्थ्य विभाग संकल्पित है। 

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

spot_img
spot_img
spot_img
spot_img

संबंधित खबरें