स्वामी विवेकानंद की जयंती पर इंटर कॉलेज में आयोजित हुआ सेमिनार, प्रतिभागी हुए सम्मानित

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

डुमरांव. युवाओं को स्वामी जी के सिद्धांतों पर चलकर आगे बढ़ना चाहिए. ताकि बक्सर जिला सहित देश का नाम रौशन हो सके. उक्त बातें सागर माहेश्वरी जिला युवा अधिकारी ने इंटर कॉलेज में नेहरू युवा केंद्र, बक्सर अतर्गत नेहरू युवा विकास समिति, डुमरांव द्वारा आयोजित स्वामी विवेकानंद जयंती युवा दिवस पर कहीं. कार्यक्रम का शुभारंभ तैल्यचित्र के सामने मंत्रोच्चारण के साथ हुआ. दीप प्रज्वलन सागर माहेश्वरी जिला युवा अधिकारी, शैलेश कुमार राय, प्रोजेक्ट ऑफिसर नमामि गंगे, बक्सर, प्राचार्य सुमन चतुर्वेदी, मनोरंजन त्रिपाठी, डॉ संजय कुमार सिंह, इंद्रेश कुमार सिंह, दिनेश चंद्रवंशी तथा अवधेश कुमार पांडे ने सामूहिक रूप से किया.

स्वामी विवेकानंद की जयंती पर अतिथि व प्राचार्य द्वारा युवाआंे, मीडिया कर्मी तथा अतिथियों को अंग वस्त्र, शील्ड के साथ माल्यार्पण कर सम्मानित किया गया. नेताजी सुभाष चंद्र बोस जयंती पर जिले में भाषण प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान आकृति, निलाक्षी तथा विद्यासागर को शील्ड व मेडल देकर सम्मानित किया गया. कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ संजय कुमार सिंह एवं मंच संचालन पूजा चतुर्वेदी ने किया. अपने संबोधन में शैलेश राय ने कहां कि स्वामी विवेकानंद एक कर्मठ, देशभक्त व्यक्ति थे, तभी उनको आज हम लोग याद कर उनके जन्म दिवस पर युवा दिवस मनाते हैं.

प्राचार्य सुमन चतुर्वेदी ने कहां कि आज पूरा देश ही नहीं, बल्कि विदेशों में भी स्वामी जी का डंका बज चुका है. आज के युवाओं को उनसे प्रेरणा लेकर आगे बढ़ना चाहिए. तभी वह आगे बढ़ सकते हैं तभी उनका नाम देश एवं विदेशों तक हो सकता है.उदाहरण स्वामी विवेकानंद हैं. विवेकानंद वेदांत के विख्यात और प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरु थे. वह अमेरिका में स्थित शिकागों में 1893 में आयोजित विश्व धर्म महासभा में भारत की ओर से सनातन धर्म का प्रतिनिधित्व किए थे. अन्य वक्ताओं एवं विद्यार्थियों ने अपना-अपना विचार स्वामी जी के जीवनी एवं उनके कार्यों पर विचार प्रस्तुत किए.

मौके पर नेहरू युवा विकास समिति के सदस्य, शांति महिला विकास समिति, नवरंग कला मंच सहित सच्चिदानंद सिंह, सत्य नारायण मिश्र, सोनी कुमारी, रीता देवी, डॉ पूनम पांडे, सुरेंद्र प्रसाद साह, संजय कुमार सिंह, पूजा उपाध्याय, परवेज आलम, प्रशांत कुमार, दीपक कुमार, खुशी कुमारी, अवधेश कुमार, अर्चना कुमारी, चिराग, रीता देवी, रंजना सिंह सहित सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने भाग लेकर स्वामी जी के विचारों को सुना.

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

spot_img

संबंधित खबरें