वे कुशल शिक्षक ही नहीं अपितु छात्रों के कुशल पथ प्रदर्शक भी थे : डॉ सुरेंद्र सिंह

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

बक्सर : प्रो. एसके मिश्र की 78 वी जयंती स्मृति दिवस के रूप मे मनाई गई फाउंडेशन के कार्यालय में. उक्त कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ सुरेंद्र सिंह पूर्व विभागाध्यक्ष भौतिकी विज्ञान ने की. उन्होंने प्रो एस के मिश्र जी के तेल चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित किया और अपने उद्गार व्यक्त किए उन्होंने उन्हें युग पुरुष बताया और कहा ना भूतो ना भविष्यति. उनके जैसे शिक्षक विरले ही आते हैं. वे कुशल शिक्षक ही नहीं अपितु छात्रों के कुशल पथ प्रदर्शक भी थे.

वे छात्रों का सर्वागीण विकास करने में विश्वास रखते थे. वे एक अच्छे होम्योपैथिक चिकित्सक भी थे. वे अपनी सेवाएं निशुल्क देते थे साथ ही दबाये भी निशुल्क ही देते थे वे बक्सर की शान थे बिहार मे लिखी उनकी पुस्तके आज भी चलती है. मंच संचालन राजीव रंजन पंडे ने की वहीं धन्यवाद ज्ञापन प्रोफेसर रास बिहारी शर्मा जी ने की उन्होंने बोला की इस महाविद्यालय में आकर मेरा जीवन सफल हो गया जहा प्रोफेसर एस के मिश्र जी जैसी महान विभूति रह चुकी है.

मैं उनको सादर प्रणाम करता हू वे जहां रहे महाविद्यालय के छात्रों का मार्गदर्शन करते रहें अपने आशीर्वाद से. वहीं पूर्व छात्र राजीव रंजन ने नम आँखों से अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किया .उक्त कार्यक्रम में शिवचंद्र सिंह शंभू लाल अरुण प्रकाश आफताब संजय यादव शिव जी यादव बृजमोहन संजय किशोर धन जय राम सोहेल अख्तर राम कृष्ण कमलेश पाल इत्यादि मौजूद रहे और अपनी श्रद्धांजलि दिए. सभा का संचालन er मनीष कुमार ने की.

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

संबंधित खबरें