प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में आयोजित बैठक में एएनएम को दी गई कई रोगों की जानकारी

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

डुमरांव. प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में मंगलवार को प्रखंड क्षेत्र में चल रहें स्वास्थ्य योजनाओं, टीकाकरण, एएनसी, एनसीडी सहित अन्य कार्यो को समीक्षा बैठक में हुआ.  जिसमें पीएचसी प्रभारी डा. आरबी प्रसाद, डब्लूएचओ एसएमओ डा. आशष कुमार, उमेश कुमार, पंकज कुमार मिश्रा उपस्थित रहें. बैठक में एकाएक लुंज पुंज लकवा, खसरा, गलघोंटू, काली खांसी और नवजात टेटनस संबंधित जानकारी दी उपस्थित एसएमओ द्वारा नये-नये एएनएम व कुछ पुराने एएनएम को विस्तृत जानकारी दिया गया.

एकाएक लंुज पुंज लकवा को लेकर बताया गया कि पिछले छह माह के अंदर 15 वर्ष से कम आयु के बच्चें में शरीर के किसी भी हिस्सें में अचानक कमजोरी और लुंज पुंज लकवे का लक्षण हो जाना या किसी उम्र के व्यक्ति, जिसमें पोलियो का संदेह हो. खरारा को लेकर बताया गया कि किसी भी उम्र का व्यक्ति जिसमें बुखार एवं शरीर पर लाल चकते हो या किसी चिकित्सक या स्वास्थ्य कार्यकर्ता द्वारा उस व्यक्ति में खसरा या रूबेला का संदेह हो. गलघोंटू में बताया कि यदि किसी व्यक्ति को बुखार, गले में दर्द या टांसिल का लाल होना या खांसी के साथ आवाज भारी होना एवं टांसिल या उसके आस पास व्हाइट या डार्क ग्रे थक्का झील्ली होना.

काली खांसी के बारें मे बताया गया कि यदि किसी व्यक्ति को कम से कम दो सप्ताह से खांसी हो या एवं इनमें से कोई भी एक लक्षण हो, खांसी का लगातार होना, खासने के बाद सांस लेने में जोरदार आवाज होना, खांसने के तुरंत उलटी का होना, अन्य स्पष्ट चिकित्सीय कारण अस्थमा, टीबी न होना. नवजात टेटनस में बताया गया कि जीवन के पहले दो दिन के दौरान चूसने एवं रोने की सामान्य क्षमता वाला कोइ नवजात जिसे 2 दिन से 28 दिन की आयु के बीच सामान्य रूप से मां का दुध न चूस पाना या न रोना और शरीर का कडापन, अकड़ाहट, चकमी का लक्षण होना या जन्म से एक महीने के अंदर अज्ञात से नवजात की मौत होना, शामिल है. मौके पर लालपरी, सबिता कुमारी, प्रतिमा, सुषमा, सुमी हासंदा, बेबी कुमारी सहित अन्य एएनएम उपस्थित रहें.  

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

spot_img

संबंधित खबरें