spot_img

दलित-गरीब-भूमिहीनों को उजाड़ने पर तत्काल रोक लगाए सरकार : माले

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

माननीय उच्च न्यायालय के आदेश के आलोक में बिना वैकल्पिक व्यवस्था के बासगीत परचाधारियों, पचासों वर्षों से बसे गरीब-भूमिहीनों को प्रशासन द्वारा उजाड़ने के खिलाफ में भाकपा माले द्वारा जिला अधिकारी बक्सर के समझ एकदिवसीय धरना दिया गया। धरना की अध्यक्षता वरिष्ठ माले नेता इटाढ़ी प्रखंड के सचिव कॉम जगनारायण शर्मा तथा संचालन नावानगर प्रखण्ड सचिव कॉम हरेन्द्र राम ने किया। धरना को संबोधित करते हुए नेताओं ने कहा कि बक्सर जिला सहित पूरे राज्य में दलितों- गरीबों के घरों पर बुलडोजर चल रहे हैं। जबकि बिहार सरकार के द्वारा निर्देशित किया गया है कि बिना किसी वैकल्पिक व्यवस्था के किसी भी गरीब-भूमिहीन को उजाड़ा नहीं जायेगा।

राज्य में गरीब विरोधी सक्रिय गिरोह कानूनी पेंच का फायदा उठाकर आवंटित बासगीत पर्चा के खिलाफ और अतिक्रमण वाद चलाकर गरीबों को उजाड़ने में लगे हैं। न्यायालय की आड़ में गरीबों-भूमिहीनों को उजाड़ने पर आमादा है। हजारों परिवारों को नोटिस थमा दिया गया है जबकि इनमें से तीन चौथाई लोगों को सरकार द्वारा बासगीत पर्चा दिया गया है । अपने जीवन भर की जमापूँजी लगाकर गरीब लोग पक्का /कच्चा मकान बनाकर पीढ़ियों से गुजर-बसर कर रहें हैं। अपने घरों पर बुलडोजर चलाने का विरोध कर रहे लोगों पर बर्बर दमन अभियान और गिरफ्तारी भी चल रही है।

भाकपा माले के साथी गाँव गाँव मे तैनात रहेंगे और अपनी जान की बाजी लगाकर किसी भी गरीब के घर पर बुलडोजर नहीं चलने देंगे। विधि व्यवस्था अगर बिगड़ती है तो प्रशासन और सरकार स्वयं इसकी जिम्मेदार होगी। दूसरी तरफ हमारे पार्टी के नेता व डुमराँव विधायक कॉ० अजीत कुमार सिंह सहित 18 लोगों पर पुलिस हिरासत में एक वृद्ध की मौत के मामले में फर्जी मुकदमा (कोरानसराय काण्ड संख्या -138/22) दायर कर दिया गया है।

भाकपा माले के एकदिवसीय धरना के माध्यम से सरकार से माँगे रखी हैं

गरीब-भूमिहीन लोंगो के उजाड़ने के अभियान पर तत्काल रोक लगाया जाय । उजाड़ने से पहले सभी गरीब-भूमिहीनों के आवास की वैकल्पिक व्यवस्था की गारंटी किया जाय । अभी तक उजाड़े गए लोगों को तत्काल बसाया जाय । बड़े-बड़े सरकारी भूखण्डों तथा सीलिंग से फालतू भूमि को चिन्हित कर जमीन्दारों और भूमाफियाओं से मुक्त कराकर गरीबों को बसाया जाय । कॉ अजीत कुमार सिंह वाले फर्जी मामले में संज्ञान लिया जाय ताकि न्याय मिल सके । धरना को वरिष्ठ किसान नेता अलख नारायण चौधरी, नीरज यादव, सुकर राम, वीरेन्द्र सिंह, इनौस के जिला सचिव धर्मेंद्र सिंह, कन्हैया पासवान, नारायण दास वीरेंद्र सिंह मोनू पासवान राज देव सिंह सहित अन्य नेताओं ने संबोधित किया । धरना में सैकड़ों बासगीत परचाधारियों ने हिस्सा लिया ।

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

संबंधित खबरें