spot_img

जिले में 4 से 10 फरवरी तक नि:शुल्क कैंसर रोग स्क्रीनिंग सह परामर्श शिविर का होगा आयोजन

यह भी पढ़ें

- Advertisement -

बक्सर, 03 फरवरी | विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर 4 से 10 फरवरी तक “नि:शुल्क कैंसर रोग स्क्रीनिंग सह परामर्श शिविर” का आयोजन किया जाएगा। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के निर्देशानुसार 4 फरवरी को विश्व कैंसर दिवस के रूप में आयोजित किया जाना है। इस अवसर पर जिले के सभी स्वास्थ्य संस्थानों पर विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा।

सदर अस्पताल, अनुमंडलीय अस्पताल, रेफरल अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर पर नि:शुल्क कैंसर रोग परामर्श शिविर का आयोजन किया जाना है। हालांकि, होमी भाभा कैंसर अस्पताल और रिसर्च सेंटर के द्वारा जिले में कैंसर के प्रति जागरूकता के साथ साथ स्क्रीनिंग शिविर का आयोजन किया जाता रहा है। लेकिन, विशेष आयोजनों के तहत जिलास्तर पर सरकारी संस्थानों में स्क्रीनिंग और परामर्श शिविर का आयोजन किया जाता है।

इस संबंध में जिले के सिविल सर्जन डॉ. जितेंद्र नाथ ने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को शिविर लगाने को लेकर निर्देशित किया है।उपचार के साथ बचाव की दी जाएगी जानकारी :गैर संचारी रोग पदाधिकारी डॉ. संजय कुमार ने बताया, स्वास्थ्य संस्थानों पर आयोजित किए जाने वाले परामर्श शिविर में मरीजों को चिकित्सकों के द्वारा कैंसर रोग की स्क्रीनिंग के साथ उन्हें कैंसर के संभावित कारणों, लक्षणों एवं उससे बचाव के प्रति जानकारी दी जाएगी ।

शिविर में चिकित्सकों के द्वारा सामान्य कैंसर के संभावित रोगियों की खोज कर आईजीआईएमएस पटना, एम्स पटना, पीएमसीएच एवं महावीर कैंसर अस्पताल में आवश्यक रूप से उपचार के लिए रेफर किया जाएगा। निःशुल्क कैंसर रोग परामर्श शिविर के सफल आयोजन के लिए जिला व प्रखंड स्तर पर बैनर पोस्टर के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जाएगा। जागरूकता के लिए स्वास्थ्य संस्थानों पर रंगीन फ्लेक्स व बैनर लगाए जाएंगे।

- Advertisement -

सही समय पर पहचान से कैंसर को किया जा सकता है नियंत्रित

होमी भाभा कैंसर अस्पताल और रिसर्च सेंटर के चिकित्सक डॉ. वरुण सांक्रित ने बताया कि यदि कैंसर रोग की सही समय पर पहचान कर ली जाए तो इलाज द्वारा इसको नियंत्रित किया जा सकता है। जानकारी के अभाव में लोगों के शरीर में यह विकसित हो जाता है। जब तक लोग इसे जान पाते हैं, तब तक देर हो जाती और लोगों को शारीरिक, मानसिक और आर्थिक परेशानियों से जूझना पड़ता है।

आनेवाले समय में 90 प्रतिशत तक मृत्यु के कारण गैर संचारी रोग ही होंगे। जिनमें मधुमेह, उच्च रक्तचाप एवं कैंसर प्रमुख होंगे। उन्होंने बताया कि शरीर में मुंह, स्तन, गर्भाशय कही भी कैंसर हो सकता है, इसलिए कैंसर रोग की रोकथाम एवं आम जनमानस को इसके प्रति जागरूक होने की जरूरत है।

ये हैं कैंसर के लक्षण

शरीर के किसी अंग में असामान्य सूजन या कड़ापन, न भरने वाला घाव, लगातार बुखार या वजन में कमी, शौच तथा मूत्र में खून निकलना, स्तन में सूजन और चार से छह सप्ताह तक लगातार पतले दस्त की शिकायत आदि कैंसर के लक्षण हैं। ऐसी स्थिति में चिकित्सक से सलाह लेनी चाहिए।

- Advertisement -

विज्ञापन और पोर्टल को सहयोग करने के लिए इसका उपयोग करें

spot_img
0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

विज्ञापन

spot_img

संबंधित खबरें